Angularjs क्या है ?Learn Angularjs in hindi

एंगुलरजेएस की बेसिक जानकारी

अगर आप एक वेब डिजाइनर या फिर एप्लीकेशन डेवलपमेंट डेवलपर बनना चाहते हैं तो Angularjs एक अच्छा करियर ऑप्शन बन सकता है इसको सीखने से एक अच्छी नौकरी मिल सकती है। यह आपके कौशल में भी बढ़ोतरी करने में कारगर साबित हो सकता है। इससे वेब डेवलपमेंट इंडस्ट्री में अपने आप को आप स्थापित कर सकते हैं।

इससे आप अपने वेबसाइट को सुंदर और आकर्षक एवं प्रभावशाली बना सकते हैं। इसके सीखने के बाद आप आसानी से android,app या IOS(आईओएस) एप्प बना सकते हैं। इसकी सबसे अच्छी बात यह है कि इसके लिए बहुत सी प्रोग्रामिंग भाषा सीखने की आवश्यकता नहीं पड़ती है। आज के युग में इसका स्कोर बढ़ता जा रहा है जिससे डेवलपर्स की मांग बढ़ती जा रही है।

 Angularjs का परिचय :Indroduction

 यह एक जावा के स्क्रिप्ट पर आधारित ओपन सोर्स का फ्रंट एंड वेब फ्रेमवर्क है। जो गूगल के कर्मचारी Misko Hevery के द्वारा 2009  मैं बनाया गया था। पर आधिकारिक तौर पर 2010 में इसे रिलीज किया गया है। वर्तमान समय में Angularjs बहुत प्रचलित हो रहा है।

 Angularjs क्या है?

यह एक जावास्क्रिप्ट फ्रेमवर्क है जिससे गूगल द्वारा निर्मित और अनुरक्षित किया गया है। बहुत सी कंपनी जैसे इसका IBM,Google इसका इस्तेमाल कर रहे हैं। यह काफी तेजी से लोकप्रिय हो रहा है। तथा एक करियर ऑप्शन के रूप में यह विकास की ओर अग्रसर हो रहा है।

Angularjs के लिए आपको कुछ प्रोग्रामिंग लैंग्वेज जैसे HTML(एचटीएमएल) CSS (सीएसएस),जावा आदि का ज्ञान आवश्यक है। Angularjs को <script> टैग HTML में जोड़कर Angularjs (एंगुलरजेएस) एचटीएमएल को जावर टीम द्वारा एक्सटेंड करता है। 

Angularjs (एंगुलरजेएस) के द्वारा हम कई विशेषताओं को प्राप्त कर सकते हैं जैसे two way data binding dependency Injection आदि। इससे वेब एप्लीकेशन को ज्यादा से ज्यादा intractive बना सकते हैं।

 दिन पर दिन इसकी मांग बड़ी-बड़ी कंपनियों में बढ़ती जा रही है इसलिए Angularjs का भविष्य बहुत सुनहरा होने वाला है इसलिए इसको सीखना करियर के लिए फायदेमंद रहेगा।

  एंगुलरजेएस की विशेषता

 यह सिंगल पेज एप्लीकेशन बनाता है इसके द्वारा हम एक पेज से दूसरे पेज पर आसानी से जा सकते हैं जहां हमें पेज को रिफ्रेश करने की आवश्यकता नहीं पड़ती है। 

यह html पेज को स्टैटिक्स ए डायनेमिक पेज में बदलने के लिए सहायक होता है। कस्टम html attributes बनाने के लिए पावर देता है। 

इसके इस्तेमाल से Application development को मॉडल व्यू और कंट्रोलर में बांटा जा सकता है । इसके कम से कम Error होने की संभावना होती है 

यह बहुत तेज गति से काम करता है। यह mvc(एमवीसी) पैटर्न को सपोर्ट करता है यह html को डायनेमिक बनाता है Built in attributes (बिल्ट इन एट्रिब्यूट) के द्वारा इसके साथ डेवलपर्स शॉर्टकोड ज्यादा कार्य करने की क्षमता प्राप्त कर सकते हैं 

यह डाटा और मॉड्यूल को जोड़ने में सीधे मदद करता है विशेषताओं के साथ इसकी कई खामियां भी हैं जैसे एंगुलरजेएस में लिखा गया एप्लीकेशन ज्यादा सुरक्षित नहीं होता है। 

इन्हे भी पढ़े -Education technology: Edu Technology importance 2021

Angularjs material

यह UI (यूआई) घटक का पुस्तकालय है। यह सामग्री तथा डिजाइन को लागु करता है। यह यूआई घटकों का एक सेट प्रधान करता है। 2012 में इसके टीम ने गूगल के लिए एक्सटेंसन बनाया था।

जो बेहतरीन डबगिंग का अनुभव देता है। Angularjs ये डाइजेस्ट साइकिल के प्रतिमान को निर्धारित करता है। इसे एक लूप मानकर Angularjs जाँच करता है की सभी स्कोपस द्वारा देखे गए सही चरों में कोई परिवर्तन हुआ है की नहीं। 

आशा है angularjs का यह भाग आपको समझ में आया होगा। तथा यह एक अच्छा विकल्प एक करियर के रूप में हो सकता है इसकी जानकारी मिली होगी, धन्यवाद।

Leave a Comment