Augmented reality क्या है ? AR के फायदे शिक्षा के क्षेत्र में 2021!

नमस्कार दोस्तों स्वागत है आज के इस Augmented reality (ऑगमेंटेड रियलिटी) के इस भाग में जैसे की हम देख ही रहे हैं कि कंप्यूटर और तकनीकी ने बहुत सी चीजों में परिवर्तन ला दिया है।

जिससे चीजें समझने में पहले से अधिक स्पष्ट हो गई है चाहे वह पढ़ाई की दिशा में हो खेलकूद या गेमिंग या फिर अन्य चीजों में इसी दिशा में Augmented reality एक कदम और बेहतर तकनीकी का नाम है जैसे हमने वर्चुअल रियलिटी में देखा था। कि हमें कंप्यूटर के द्वारा निर्मित की गई दुनिया में अपने होने का अनुभव होता है।

जैसे पब्जी आदि गेमों में हम देख चुके हैं। जिसमे हम खुद सिस्टम के अंदर होने का अनुभव होने के जैसा फील करते थे। लेकिन Augmented reality में इसके ठीक विपरीत चीजों का होने का एहसास करते हैं।

मतलब ऑगमेंटेड रियलिटी कंप्यूटर और रियलिटी का मिश्रण है। जिसमें हम अपने भौतिक चीजों के साथ तकनीकी के मिश्रण का अनुभव करते हैं। चलिए इसको दूसरे तरीके से समझते हैं

What is Augmented reality?

Augmented reality वह तकनीक है जहां हमारे अपने आसपास की दुनिया में ही एक डिजिटल दुनिया को जोड़ा जाता है अर्थात Augmented reality तकनीकी के द्वारा इसमें 3D ऑब्जेक्ट, ग्राफिक, स्पेशल इफेक्ट, फिल्टर आदि के द्वारा हमारे आसपास की चीजों में यह अपनी वर्चुअल ऑब्जेक्ट को डाल देता है।

जिसमें यह पूरी तरह वास्तविक लगता है जैसे हमने स्नैपचैट ऐप्स में पाया है। यह Recognition algorithm technology (रिकॉग्निशन एल्गोरिथम तकनीक) पर काम करता है मतलब चीजों को पहचान कर उसकी लंबाई, चौड़ाई को नाप कर वहां अपना वर्चुअल ऑब्जेक्ट को जोड़ देता है।

बहुत सारे ऐप्स जैसे लेंसकार्ड,पोकेमोन गो,IKEA आदि तकनीक Augmented reality पर आधारित है। इसे संक्षिप्त रूप में AR भी कहते हैं। इसका इस्तेमाल बहुत से क्षेत्रों में किया जाता है। जैसे इंजीनियरिंग के क्षेत्र में, शिक्षा के क्षेत्र में, चिकित्सा, गेमिंग, रोबोटिक आदि 

Advantages of Augmented reality-

शिक्षा ऐसा क्षेत्र था। जिसमें पारंपरिक शिक्षा का वर्चस्व रहा है । पर तकनीकी के कारण शिक्षा/शिक्षण/परिक्षण को बहुत ही सरल और रोचक तथा सापेक्ष बना दिया है। तथा बहुत सी गुणात्मक चीजों को जोड़ दिया है। जिससे काफी कुछ बदल दिया है। इसे आप ए आर ग्लास या स्मार्ट ग्लास के जरिए या फिर होलोलेंस के जरिए अनुभव कर सकते है।

AR के द्वारा आप किसी भी चीज का ढांचा उसका आभासी चित्र 360 डिग्री में घुमा कर तथा सभी एंगल से देख सकते हैं। जिससे चीजों को बेहतर समझने में सहूलियत होती है। यह शिक्षा के क्षेत्र में बहुत ही क्रांतिकारी सिद्ध हो सकता है।

इन्हें भी पढ़े –Blockchain technology क्या हैं ?ब्लॉकचैन टेक्नोलॉजी के फायदे !

Augmented reality का उपयोग 

इसका उपयोग हम रिसर्च में प्रयोग कर चीजों को बेहतर कर सकते हैं। तथा मेडिकल फील्ड में मानव संरचना तथा उसकी बीमारियों को बहुत ही आसान तरीकों से समझ सकते हैं। इसके अलावा यह- 

  • Military
  • Entertainment 
  • Music industry
  • Media
  • Real estate 
  • Education 
  • Augmented surgery 

Virtual reality vs Augmented reality

virtual reality (वर्चुअल रियलिटी) में हम VR ग्लास, हेडफोन,3D चश्मा आदि पहनकर virtual world में जाते हैं।और वर्चुअल वर्ल्ड की ही दी गई दुनिया में रहते थे तथा उन्हीं की चीजों का अनुभव करते थे।

पर AR में हम केवल एक स्मार्ट ग्लास पहन कर अपनी वास्तविक दुनिया में ही तथा वास्तविक दुनिया के चीजों में वर्चुअल ऑब्जेक्ट को जोड़कर एक नई दुनिया बनाते हैं। जो काफी वास्तविक लगती है।

History of Augmented reality –

सन 1901 में एल फैंकबॉम एक लेखक ने इलेक्ट्रॉनिक डिस्प्ले के का उल्लेख किया था। इसके बाद इस पर नियमित रिसर्च चलता रहा।

और 1968 में पहला हेड माउंटेंड डिस्प्ले बनाया गया,इवान सदरलैंड के द्वारा जिससे की Augmented reality की दिशा आगे की ओर बढ़ी और 1990 में टॉम काडेल के द्वारा Augmented reality नाम दिया गया। 

Augmented reality के फायदे और नुकसान 

फायदे- 

  • यह आकर्षक है।  
  • यह एक बेहतरीन तकनीक है। 
  • चीजों को समझना आसान हो जाता है। 
  • चिकित्सा मिलिट्री या फिर एजुकेशन के क्षेत्र में काफी बदलाव ला सकता है। 

नुकसान- 

  • आंखों पर डिजिटल चीजों से बहुत जोर पड़ता है। 
  • इसकी लत भी लग जाती है। 
  • पूर्णतः आप इस पर निर्भर हो जाते हैं। 
  • यह एक जटिल तकनीकी है। 
  • यह महंगी तकनीक है। 

                                          आशा है दोस्तों आपको Augmented reality को समझने में आसानी हुई होगी। तथा यह किन-किन क्षेत्रों में क्रांतिकारी परिवर्तन ला सकता है। इसका आभास हुआ होगा। अगर लेखनी पसंद आई हो तो लाइक शेयर फॉलो जरूर करें धन्यवाद।

Leave a Comment