Flowcharts क्या होता है ? जानें 7 प्रकार के प्रतीक चिन्हों को & benefits

स्वागत है दोस्तों आज के इस भाग Flowcharts में,दोस्तों हम सभी जानते है की किसी भी apps या फिर किसी भी सॉफ्टवेयर को बनाने के लिए एक programing language की जरुरत होती है,जो थोड़ी कठिन भी होती हैं। इसकी प्रक्रिया कभी कभी इतनी जटिल होती है। जिसे समझना तथा पूर्ण रूप से अंजाम देना कठिन भी हो जाता है।

इसलिए programming industry ने एक ऐसा टूल बनाने की सोची जो  जिसे चित्रों तथा प्रतीकात्मक चिन्हो के द्वारा प्रतिपादित किया जाए जो किसी भी समस्या को या किसी भी प्रक्रिया को सुलझाने में चरण दर चरण मदद करे। जिससे programing थोड़ा easy हो जाए। 

यह किसी भी Algorithms का ग्राफीय निरूपण है जिससे हम कुछ डाइग्राम,कुछ डिजाईन के द्वारा दर्शाते है,जिसे flowchart कहते है,इसमें सभी डिजाईन को एक दूसरे से आवश्यकता अनुसार जोड़ा जाता है,जो algorithms के प्रवाह को दर्शाता है । अर्थात flowchart एक ऐसा चित्र होता है जो काम करने की प्रक्रिया को दर्शाता है।

सामान्यः यह कंप्यूटर के प्रोग्रामिंग मे use होता है लेकिन flowchart से हम अपने रोजमरा के काम को भी आसान बना सकते है । इसका उपयोग विश्लेषण, डिजाईन,प्रबंधन,दस्तावेज आदि बनाने मे भी किया जाता है ।

 Flowcharts किसी भी प्रक्रिया का चित्र  या प्रतीक चिन्हों का प्रतिनिधित्व करता है। इसका मुख्य उद्देश्य दर्शकों के लिए  प्रक्रियाओं को,तर्क को कल्पना करने में समझने में सहायता प्रदान करना है। इसे जटिल प्रक्रियाओं को डिजाइन तथा दस्तावेज करने में इस्तेमाल होता है। ताकि प्रक्रियाओं को बेहतर से समझा जा सके। 

 साथ ही साथ किसी भी प्रक्रिया की खामियां बाधाओं को महसूस कर उनका निवारण किया जा सके। फ्लो चार्ट डिजाइन करते समय प्रक्रियाओं को प्रत्येक चरण को एक अलग प्रतीक द्वारा दर्शाया जाता है। जिसे कुछ विशेष नामो से सम्बोधित किया जाता है। चलिए कुछ basic symbol के बारे मे समझते है ।  

Flowcharts में उपयोग किए जाने वाले प्रतीकों चिन्ह  निम्नलिखित है

1.Start and End symbols: इसे terminal symbol भी कहा जाता है। इन्हें प्रारंभ और अंत प्रतीकों के रूप में भी इस्तमाल किया जाता है। terminal symbol को circles,ovals,or rounded rectangles के रूप में represented किया जाता है। यह फ्लोचार्ट के  हमेशा पहले तथा अंतिम में होते है। 

image 5
Start and End symbol

2.  Arrows: इस तरह के symbol कार्यक्रम के नियंत्रण के प्रवाह को दर्शाते हैं वे बताते हैं कि कार्य निष्पादित हैं। 

image
Arrows

3 Generic processing step यह Generic processing step (सामान्य प्रसंस्करण) है। इसे rectangle के द्वारा represent किया जाता है और इसे गतिविधि के रूप में भी जाना जाता है। यह अंकगणित का प्रतिनिधित्व करता है। जब एक से अधिक प्रक्रियाओं को एक साथ निष्पादित करना होता है तो इसे कर सकते है। 

image 1
Processing step

4 Input/Output symbols:इनपुट और आउटपुट  प्रतीक चिन्हो  को एक parallelogram के द्वारा दर्शाया जाता है। तथा परिणाम प्रदर्शित भी किया जाता है ।

5 A conditional or decision symbol: Diamond प्रतीकात्मक चिन्ह  निर्णय  का प्रतीक  है जिसका उपयोग हाँ/ ना या फिर सही /गलत को दर्शाने के लिए किया जाता है। फ्लोचार्ट में अगर दो arrow इंगित है तो यह दर्शाता है  कि एक जटिल निर्णय लिया जा सकता है। 

image 3
Decision symbol

6 Labelled connector:इस तरह के चिन्ह दर्शाते है कि दो फ्लोचार्ट को जोड़ने के लिए दर्शाया जाता है। इसे जटिल समस्या में इस्तमाल किए जाते है। 

image 4
Connector

7 A Pre-define process symbol:पूर्व -परिभाषित प्रकिर्या प्रतीक अन्य प्रकिर्या चरण या प्रक्रिया प्रवाह, चरणों की श्रृंखला के लिए इस्तमाल होता है। यह आमतौर पर उप -प्रक्रिया को दर्शाता है। 

image 2
Pre -defined Process

फ्लोचार्ट का महत्व Significance of Flowcharts

Flowcharts एक निरूपण है। यह चरणों के अनुक्रम को दर्शाता है जिन्हें निष्पादित करना होता है। यह आमतौर पर कंप्यूटर समाधान तैयार करने के शुरुआती चरणों में तैयार होता  है। प्रोग्राम उपयोगकर्ताओं के बीच संचार की सुविधा प्रदान करता है।

इन्हें भी जाने –UX/UI Design क्या है ? bright future!

एक बार Flowcharts तैयार हो जाने के बाद प्रोग्राम से आसानी से  समाधान को निकाला जा सकता है। आसानी से और स्पष्ट रूप से समस्या को समझा जा सकता है । किसी समस्या के लिए फ्लोचार्ट बहुत महत्वपूर्ण है क्योकि यह जटिल और लंबी समस्याओं के तर्क को समझाते हैं।

एक बार एक Flowcharts तैयार हो जाने के बाद यह प्रोग्रामर  के लिए आसान हो जाता है। क्योकि यह जटिल कार्यक्रमों के बेहतर प्रलेखन के लिए इस्तेमाल होने लगता है। एक Flowcharts समस्याओं को हल करने में टॉप डाउन का अनुसरण करता है। इन्हे भी जानें –

blended learning amazing learning!

चलिए कुछ उदहारण देखते है –

image 7
Example 1 Draw a flowchart to calculate the sum of the first 10 natural numbers
image 12
Example 2 Draw a flowchart to add two numbers

  Flowcharts के लाभ –

वे सभी संबंधित को एक प्रणाली के तर्क की व्याख्या करने के लिए बहुत अच्छे संचार उपकरण है। ये समस्याओं का अधिक प्रभावी तरीके से विश्लेषण करने में मदद करते हैं। इनका उपयोग प्रोग्राम प्रलेखन के लिए भी किया जाता है।

जटिल समस्या के मामले में यह और भी ज्यादा मददगार होते हैं। वह किसी भी प्रोग्रामिंग भाषा में समाधान को हल करने के लिए प्रोग्रामर के लिए एक गाइड या ब्लूप्रिंट के रूप में कार्य करते हैं।

ये प्रोग्रामस को शुरुवाती बिंदु से अंत बिंदु तक जाने के लिए निर्देश देते हैं। इसके परिणाम स्वरूप त्रुटि फ्रिज प्रोग्राम होते हैं। इनका उपयोग उन प्रोग्रामों को ठीक करने के लिए किया जाता है जिनमें त्रुटियां होती है।

निष्कर्ष – आशा है दोस्तों आपको flowchart के बारे मे दी गई जानकारी अच्छी लगी हुई होगी। अगर आपको इससे संबंधित कोई प्रश्न हो तो मुझे लिखे।आपके सवालों का इंतजार रहेगा। धन्यवाद

Leave a Comment